शासन-प्रशासन में पारदर्शिता के लिए सूचना प्रौद्योगिकी बहुत महत्वपूर्ण है। इस दिशा में हाल के वर्षों में हमें उल्लेखनीय सफलता भी मिली । आज के समय में विभिन्न शासकीय योजनाओं का फायदा अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाने में सूचना प्रौद्योगिकी की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। ई-गवर्नेन्स के तीन फायदे होंगे। पहला, कार्य में मानवीय हस्तक्षेप कम होने से भ्रष्टाचार की संभावनाएँ कम होंगी, दूसरी, कर चोरी पर ज्यादा असरकारी अंकुश लगेगा और तीसरा, कर राजस्व में वृद्धि होगी।


ई गवर्नेन्स तभी सफल होगी जब उसका सीधा लाभ सुदूर देहात में बैठे लोगों को दिलाया जाना सुनिश्चित हो। आज आवश्यकता इस बात की है कि आम आवाम का ‘‘माइन्ड सैट’’ बदले तथा वे विकास की मुख्य धारा से सीधे जुडे। हमें अब बदलते समय के साथ चलना होगा तभी हम प्रगति को पिछडे और अंतिम छोर पर खडे व्यक्ति तक पहुंचाकर सरकारी योजनाओं व कार्यक्रमों का लाभ दिला पाएंगे। क्षेत्रीय भाषाओं का ई गवर्नेन्स व्यवस्था में प्रयोग होने से आमजन अधिकाधिक फायदा उठा सकेंगे।

श्री आलोक सिन्हा (आईएएस)

मण्डलायुक्त, मेरठ (उ०प्र०)



 

 

होम |  साईट नक्शा | विभागफोटो गैलरी दर्शनीय स्थल | संपर्क करें

 

कॉपीराइट © 2014 मण्डल आयुक्त, मेरठ मण्डल, कमिशनरी, मेरठ (उत्तर प्रदेश) पिन - 250004